देर आए दुरुस्त आए मुहावरे का हिंदी अर्थ


Der aaye durust aaye meaning, hindi phrase meaning explanation, देर आए दुरुस्त आए मुहावरे का सही हिंदी अर्थ क्या है।

देर आए दुरुस्त आए हिंदी भाषा का एक आम मुहावरा है जिसका अंग्रेजी में अनुवाद “better late than never” होता है, इस मुहावरे का प्रयोग अक्सर राहत व्यक्त करने के लिए किया जाता है जब कोई अंततः आता है, या लंबे विलंब के बाद कार्य पूरा करता है, तो उस वक्त हम देर आए दुरुस्त आए मुहावरे का प्रयोग करते हैं।

दोस्तों आज के इस लेख में हमने आपको देर आए दुरुस्त आए मुहावरे का सही हिंदी अर्थ क्या है, मुहावरे के वाक्यांश की उत्पत्ति कैसे हुई, और भारत में इसका सांस्कृतिक महत्व क्या है इसके बारे में जानेंगे।

देर आए दुरुस्त आए का अर्थ समझे

मुहावरे के वाक्यांशमुहावरे का हिंदी अर्थ
देर आएदेर से आना
दुरुस्त आएसही समय पर आना
देर आए दुरुस्त आएदेर से आना पर सही समय पर पहुंच जाना

“देर आए दुरुस्त आए” मुहावरे के शब्द फ़ारसी भाषा से लिए गए है, जो आमतौर पर मुगल काल के दौरान भारत में बोला जाता था, फ़ारसी भाषा में “देर आये” का हिन्दी अर्थ “देर से आगमन” या “देर से आना” होता है।

जबकि “दुरस्त आए” का हिन्दी अर्थ “सही समय पर आगमन” या “सही समय पर आना” होता है, यानी कि दोस्तों “देर आए दुरुस्त आए” मुहावरे का सही हिंदी अर्थ “देर से आकर सही समय पर पहुंच जाना” होता है।

देर आए दुरुस्त आए मुहावरे का उदाहरण

मान लीजिए कोई व्यक्ति अस्पताल में जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा है ऐसे में उस व्यक्ति की इच्छा है कि वह अपने भाई को आखरी बार देख सके, और उस व्यक्ति की आखिरी इच्छा पूरी करने के लिए उसके परिजन उसके भाई को अस्पताल में उस व्यक्ति से मिलने के लिए बुलाते हैं।

और अस्पताल मैं बीमार पड़े व्यक्ति से मिलने जब उसका भाई पहुंचता है तो उसे पहुंचने में काफी ज्यादा देर हो जाती है परंतु बीमार व्यक्ति के प्राण निकलने से कुछ मिनट पहले बीमार व्यक्ति का भाई अस्पताल उससे मिलने पहुंच जाता है, तो ऐसे में बीमार व्यक्ति के परिजन उसे कहते हैं, “देर आए पर दुरुस्त आए” यानी कि तुम्हें आने में काफी ज्यादा देर हो गई पर तुम सही समय पर पहुंच गए।

भारतीय संस्कृति में देर आए दुरुस्त आए का महत्व क्या है?

भारतीय संस्कृति के अनुसार “देर आए दुरुस्त आए” वाक्यांश न केवल एक सामान्य अभिव्यक्ति है, बल्कि इसका सांस्कृतिक महत्व भी है, क्योंकि भारतीय लोग समय की पाबंदी को काफी ज्यादा महत्व देते हैं, और भारतीय संस्कृति में किसी बैठक या किसी कार्यक्रम में देर से पहुंचना असभ्य और अपमानजनक माना जाता है।


हालांकि, अगर कोई देर से आता है, तो “देर आए दुरुस्त आए” कहने से किसी भी तनाव को दूर करने में मदद मिल जाती है और देरी के बावजूद उनकी उपस्थिति की सराहना की जाती है।

इसलिए, जब कोई लंबे समय के इंतजार के बाद अंत में समय रहते पहुंच जाता है, तो “देर आए दुरुस्त आए” कहना उनके प्रयास को स्वीकार करने और प्रशंसा दिखाने का एक तरीका होता है।

People also ask : आपके पूछे गए सवाल

Q : क्या “देर आए दुरुस्त आए” केवल भारत में उपयोग किया जाता है?

Ans: जी नहीं, यह वाक्यांश भारत के साथ-साथ पाकिस्तान, अफगानिस्तान और ईरान सहित कई अन्य देशों में उपयोग किया जाता है।

Q : बातचीत में “देर आये दुरुस्त आए” का उपयोग करने का सबसे अच्छा तरीका क्या है?

Ans: “देर आये दुरुस्त आए” वाक्यांश का उपयोग करने का सबसे अच्छा तरीका यह है, कि इसे मुस्कान और हल्के स्वर के साथ कहें, देर से आने के लिए किसी को डांटने के बजाय राहत या प्रशंसा व्यक्त करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

Q : देर आए दुरुस्त आए मुहावरे का अंग्रेजी अनुवाद क्या है?

Ans: “देर आए दुरुस्त आए” मुहावरे का अंग्रेजी अनुवाद “better late than never” हैं।

Q : “देर आए दुरुस्त आए” हमें क्या सिखाता है? 

Ans: “देर आए दुरुस्त आए” हमें अपने लक्ष्यों में धैर्य, निरंतर और दृढ़ रहना सिखाता है, यह हमें दूसरों को क्षमा करने के लिए भी प्रोत्साहित करता है।

google News

नमस्कार दोस्तों ! मेरा नाम Lakhan Panchal है और मैं इस Blog का Founder हूं, harsawal.com वेबसाइट पर आप mobile review, apps review, mobile games, earn money, apps download, Youtube, Meaning, Cricket, GK, Cryptocurrency, Share Market, Loan, social media से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment